पेट्रोल पंप डीलरशिप दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला अंतर्राज्‍यीय गिरोह सायबर पुलिस की गिरफ्त में

July 15, 2019

भोपाल। फर्जी वेबसाइट बनाकर प्रसिद्ध कंपनियों की पेट्रोल पंप डीलरशिप एवं ऐजेंसी दिलाने के नाम पर लोगो से लाखों की ठगी करने वाले अंतर्राज्‍यीय ठग गिरोह को पकड़ने में मध्‍यप्रदेश पुलिस के सायबर सेल ने बड़ी सफलता हासिल की है। विशेष पुलिस महानिदेशक सायबर श्री पुरूषोत्‍तम शर्मा एवं अतिरिक्‍त पुलिस महानिदेशक सायबर श्री राजेश गुप्‍ता के मार्गदर्शन में बनाई गई विशेष रणनीति के तहत प्रदेश की सायबर पुलिस को यह सफलता मिलीं है। अभी तक इस गिरोह द्वारा लगभग 70 लाख रूपये की ठगी करने का मामला प्रकाश में आया है।

      विशेष पुलिस महानिदेशक सायबर श्री शर्मा ने बताया कि ठग गिरोह द्वारा नवीन फ्रेंचाइजी व फर्जी डीलरशिप सेवा दिलाने का प्रलोभन देते हुए एक फर्जी वेबसाइट तैयार की थी। इस वेबसाइट के प्रमोशन के लिए Google Adwords पर मुख्‍य की-वर्डस डालता था और इस प्रकार लोग इसके जाल में फंस जाते थे। प्रसिद्ध कंपनियों के मिलते जुलते फेक पेज बनाकर ये आवेदकों से रजिस्‍ट्रेशन करा लेते थे और उनके नाम पते व फोन पर वॉट्सएप से चैट कर फार्म भेजते थे और डीलरशिप आवंटन का लालच देकर मोटी रकम ऐंठ लेते थे। उन्‍होंने बताया बिहार से संचालित इस गिरोह ने पूरे देश में जाल फैला रखा है।

      लोगों से हुई इस ठगी की तह तक जाने के लिए  विशेष पुलिस महानिदेशक श्री शर्मा ने एक एसआईटी गठित की है। उनके द्वारा अन्‍य प्रदेशों के पुलिस महानिदेशकों को भी इस संबंध में पत्र लिखें जा रहे हैं। साथ ही प्रदेश के सभी पुलिस अधीक्षकों को भी सचेत किया जा रहा है।

      पुलिस अधीक्षक सायबर श्री विकास कुमार शाहवाल ने बताया की गत जनवरी माह में भोपाल निवासी फरियादी संजय मीणा ने सायबर पुलिस में शिकायत की थी कि इंडियन ऑयल के पेट्रोल पंप डीलरशिप दिलाने के नाम पर उसके साथ लगभग 15 लाख 32 हजार रूपये की ठगी की गई। सायबर पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर त्‍वरित कार्रवाई की और ढ़ाई लाख से अधिक राशि भी फरियादी को वापस कराने में सफलता हासिल की। ऐसी ही शिकायतें मुरैना व जबलपुर में भी दर्ज हुई थी।

      सायबर पुलिस ने मुखबिर तंत्र सक्रिय कर इन शिकायतों के आधार पर ठग गिरोह को पकड़ने के लिए विशेष रणनीति तैयार की। मुखबिरों से मिली सूचना के आधार पर संभावित ठिकानों पर दबिश दी गई और ठग गिरोह के सदस्‍य एवं फर्जी वेबसाइट डेवलपर वरूण कुमार गुप्‍ता निवासी इंद्रपुरम गाजियाबाद को कोशांबी दिल्‍ली स्‍थित ठिकाने से गिरफ्तार किया गया। एक अन्‍य आरोपी मोहम्‍मद अनवर खान निवासी मुबंई को भी सायबर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

Police News Image
पेट्रोल पंप डीलरशिप दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला अंतर्राज्‍यीय गिरोह सायबर पुलिस की गिरफ्त में
District
Bhopal