क्राइम ब्रांच इंदौर ने ठगे गए लगभग 19 हजार रूपये वापस दिलवाये

November 25, 2020

इंदौर। इंदौर क्राइम ब्रांच द्वारा ऑनलाइन ठगी, सायबर फ्राड के रोकथाम हेतु सायबर हेल्पलाइन चलायी जा रही है जिसमें प्रतिदिन फोन के माध्यम से आवेदको द्वारा अपनी फ्राड संबंधी शिकायत दर्ज कराई जाती है। पुलिस उपमहानिरीक्षक श्री हरिनारायणाचारी मिश्र ने लोगों से छलकपट कर अवैध लाभ अर्जित करते हुए ठगी करने वाले अपराधियों की पहचान कर कार्यवाही करने करने के लिए इंदौर पुलिस को निर्देशित किया है। इन निर्देशों के तारतम्य में पुलिस अधीक्षक इंदौर श्री सूरज वर्मा और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक क्राईम ब्रांच श्री गुरूप्रसाद पाराशर ने ऑनलाईन ठगी की शिकायतों की जांच के लिए विशेष टीम का गठन किया।

आवेदक आशीष सिंह ने हेल्पलाइन पर फोन कर शिकायत की थी कि अज्ञात व्यक्ति ने गूगल पे एप पर उसके मोबाइल नंबर से फर्जी मर्चेन्ट आई डी बनाकर 14 हजार रूपए की ठगी कर ली है। हेल्पलाइन पर शिकायत प्राप्त होने के उपरांत क्राइम ब्रांच टीम ने तत्काल कार्यवाही करते हुये संबंधित वालेट में गए 14 हजार रूपए का आहरण रुकवाकर आवेदक के खाते में वापस जमा करवाये। इंदौर निवासी आवेदक आशीष घटना के समय इलाहाबाद जा रहा था, सफर के दौरान ही उसके साथ ठगी की घटना हुई। आवेदक ने इंदौर क्राइम ब्रांच द्वारा संचालित सायबर हेल्पलाईन नं. 7049124445 पर फोन कर ठगी की घटना के बारे में सूचित किया, जिससे समय रहते आवेदक की रकम को वापस कराया जा सका।

      इसी प्रकार आवेदिका आभा ने सायबर हेल्पलाईन पर शिकायत की थी कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने कस्टमर केयर अधिकारी बनकर उसके यूपीआई डी से 4999 रूपए की ठगी कर ली है। हेल्पलाईन पर शिकायत प्राप्त होने के उपरांत क्राइम ब्रांच टीम ने तत्काल उचित कार्यवाही करते हुये आवेदक के खाते में पैसे वापस जमा करवाये।

      सभी आमजन से अनुरोध है कि किसी भी अज्ञात व्यक्ति को अपने बैंक खाते की व्यक्तिगत जानकारी व ओटीपी की जानकारी किसी से भी शेयर न करे एवं इस प्रकार की कोई घटना होने पर तुरंत साईबर क्राईम हेल्पलाईन नम्बर 7049124445 पर सूचित करे।

Police News Image
ind
District
Indore